भाजपा प्रत्याशियों ने दिखाया दमखम, रैली निकाल भरा नामांकन, झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबुलाल मराण्डी हुए शामिल

अम्बिकापुर/सरगुजा के तीन विधानसभा क्षेत्र अम्बिकापुर, लुण्ड्रा एवं सीतापुर से भाजपा प्रत्याशियों ने आज विशाल रैली निकाल अपना नामांकन दाखिल किया। खरसिया रोड स्थित बसंत होटल के समीप से भाजपा ने अपनी चुनावी नामांकन रैली की शुरूआत की। यह नामांकन रैली खरसिया रोड से प्रारंभ होकर घड़ी चौक में आकर समाप्त हुई। जहां पर प्रत्याशियों ने कलेक्ट्रेट जाकर अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान परिवर्तन महासंकल्प आमसभा को भी भाजपा नेताओं ने सम्बोधित किया।

ज्ञात हो कि सरगुजा जिले के तीनों ही सीटों पर डेढ़ दशक से कांग्रेस का कब्जा है। हालांकि सीतापुर सीट पर अब तक हुए चुनावों में एक भी बार भाजपा ने जीत दर्ज नहीं की है। यह सीट भाजपा के लिये अबूझ पहेली बनी हुई है। यहीं कारण है कि यहां से इस बार भाजपा ने एक युवा चेहरा को टिकट दिया है, जिसने सेना से इस्तिफा देकर राजनीति में कदम रखा है। भाजपा ने तीनों ही सीटों पर आदिवासी वोटरों को रिझाने बड़े आदिवासी नेताओं की जिम्मेदारी तय कर दी है।

आदिवासी वोटरों को साधने खासकर सीतापुर व लुण्ड्रा क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए आदिवासी नेताओं को एकजुट करने भाजपा ने नामांकन रैली में पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबुलाल मराण्डी को सरगुजा भेजा था। बाबुलाल मराण्डी ने मिडिया से बात करते हुए शराब घोटाले से लेकर बालू घोटाले तक का जिक्र किया है। उन्होंने कहा कि हमारा मुद्दा क्षेत्र का विकास एवं सरकार के भ्रष्टाचार को जनता के बीच रखना है।

शक्ति प्रदर्शन की इस रैली में भाजपा के तीनों ही प्रत्याशियों ने अपना दमखम दिखाया है। सरगुजा भाजपा के अधिकतर बड़े चेहरे भी इस नामांकन रैली में साथ दिखे। अम्बिकापुर से राजेश अग्रवाल, लुण्ड्रा से प्रबोध मिंज एवं सीतापुर से रामकुमार टोप्पो ने नामांकन दाखिल किया। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष ललन प्रताप सिंह के नेतृत्व में काफी संख्या में भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता सम्मिलित हुए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *