राष्ट्रीय लोक कला साधक सम्मान समारोह में अंबिकापुर के कला साधकों का सम्मान


अंबिकापुर। कला साहित्य एवं रंगमंच को समर्पित अखिल भारतीय संस्था छत्तीसगढ़ संस्कार भारती प्रांत द्वारा भिलाई में राष्ट्रीय वैचारिक संगोष्ठी एवं लोककला साधक सम्मान आयोजित किया गया। इस समारोह में अंबिकापुर के प्रसिद्ध साहित्यकार, लोकगायक, गीतकार रंजीत सारथी को पद्मश्री शैलेन्द्र नाथ श्रीवास्तव स्मृति से सम्मानित किया गया। फिल्म अभिनेता विनय अम्बष्ट, लोक गायक जवाहिर राम, फिल्म डायरेक्टर व एक्टर आनंद सिंह यादव, लोक गायक अर्चना पाठक को सांसद विजय बघेल दुर्ग क्षेत्र, पूर्व केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय के मुख्य आतिथ्य एवं करकमलों से तथा पद्य विभूषण अंतर्राष्ट्रीय पंडवानी गायिका डाॅ.तीजन बाई, पद्यश्री अजय कुमार मंडावी काष्ठ शिल्प कला कांकेर की अध्यक्षता एवं विशिष्ट अतिथि पद्यश्री डाॅ.भारती बंधु, प्रसिद्ध सूफी भजन गायक पद्यश्री मदन चौहान, ख्याति प्राप्त भजन व गजल गायक तथा प्रांत कार्यकारी अध्यक्ष पद्यश्री डाॅ.राधेश्याम बारले संस्कार भारती छग प्रांत, प्रांत सह महामंत्री डाॅ. पुरूषोत्तम चंद्राकर वरिष्ठ लोक गायक, प्रांत लोक कला संयोजक रिखी क्षत्रिय, निरंजन पंडा अखिल भारतीय लोक कला संयोजक संस्कार भारती तथा अनिल जोशी क्षेत्र प्रमुख मध्य क्षेत्र संस्कार भारती सहित अन्य कला साधकों की उपस्थिति में छत्तीसगढ़ कला रत्न सम्मान प्रदान किया गया। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के 28 जिले एवं 12 राज्य उड़ीसा, झारखंड, आंध्रपदेश, महाराष्ट्र, हरियाणा, पंजाब, उत्तरप्रदेश, बिहार, गुजरात, मध्य प्रदेश सहित कई राज्यों से कलाकर पधारे, जिन्हें छत्तीसगढ़ कला रत्न सम्मान, भारत गौरव सम्मान और विभिन्न पुरोधाओं के नाम साल श्रीफल, अभिनंदन प्रमाण पत्र, स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *