अणुव्रत क्रिएटिविटी में भाग लेकर जीत हासिल किए बच्चों का सम्मान


अंबिकापुर। जन शिक्षण संस्थान सरगुजा ने अणुव्रत क्रिएटिविटी में विभिन्न विद्यालयों से जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर जीतकर आए बच्चों का सम्मान किया। सामाजिक सहित विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रही वंदना दत्ता कार्यक्रम की मुख्य अतिथि रहीं। आयोजन में राजनीति क्षेत्र से भाजपा नेत्री मंजूषा भगत, अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष हेमंत तिवारी, अणुव्रत समिति के मंत्री धनपत जैन, विक्टोरिया पब्लिक स्कूल के प्राचार्य कौशल शर्मा, कन्या परिसर स्कूल गंगापुर की प्राचार्य संध्या सिंह, जन शिक्षण संस्थान के निदेशक एम.सिद्दीकी अतिथि के रूप में मंचस्थ रहे। दीप प्रज्ज्वलित कर के अणुव्रत गीत के साथ कार्यक्रम शुरू किया गया। इसी क्रम में इस कार्य से जुड़े संयोजक, जजों का सम्मान किया गया, साथ ही अपने-अपने क्षेत्र में सार्थक कार्य कर रही महिलाओं का भी सम्मान किया गया। विजेताओं के क्रम में चित्रकला में जिला स्तर पर अनुग्रह दीक्षित, राज्य स्तर पर सुहानी गुप्ता, राष्ट्रीय स्तर पर निबंध में खुशी मिश्रा विजेता रही। तीनों ही विक्टोरिया पब्लिक स्कूल के हैं। गीत गायन में शासकीय कन्या परिसर स्कूल गंगापुर से ग्रुप में आरती एक्का, भाषण में चंद्र प्रभा पैकरा राज्य स्तर पर विजेता रहे। दोनों ही विद्यालय के प्राचार्य कौशल शर्मा एवं संध्या सिंह ने इस पर प्रसन्नता जाहिर की। जज की भूमिका में आराधना अयंगर, ज्योत्सना पालोरकर, श्रद्धा मिश्रा, रानी रजक, प्रियलता रहीं। संयोजक की भूमिका अंचल ओझा, संतोष भारती, नीलू बाला जैन, मीरा साहू, सुषमा जायसवाल ने निभाई। अतिथियों ने अपने व्यक्तव्य में कार्यक्रम के उद्देश्य की सराहना की और बच्चों का उत्साह बढ़ाया। संध्या सिंह ने अपनी कविता से लोगों को मोहित कर दिया। अणुव्रत के उद्देश्य पर संयोजिका ममोल कोचेटा ने प्रकाश डाला और विभिन्न नियत कार्यक्रमों में सहयोग का आह्वान किया। कार्यक्रम का संचालन ममोल कोचेटा और शिशु मंदिर की प्राचार्य मीरा साहू ने किया। आभार प्रदर्शन महेंद्र जैन द्वारा किया गया। इस मौके पर जन शिक्षण संस्थान के विवेक सिंह, कोषाध्यक्ष राजकुमार मालू, प्रचार प्रसार मंत्री हनुमान डागा, गुलनार जैन, कुसुम जैन, शिक्षक विनीता मिश्रा, अपूर्वा दीक्षित, आराधना जैन सहित अन्य उपस्थित रहे। अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
इनका किया गया सम्मान
कार्यक्रम के दौरान एक घंटे मौन का उपक्रम वर्ष भर के लिए प्रति मंगलवार को चलाया जा रहा है, इसमें शामिल बहनों का सम्मान किया गया। बहनों में भावना जैन, संगीता जैन, शीला जैन, चंदा जैन, महिलाओं में रीता अग्रवाल का दिव्यांग क्षेत्र में, अंजु अग्रवाल एकल क्षेत्र में, कंचन गुप्ता योग में, स्वीटी जैन का प्रेक्षा ध्यान क्षेत्र में, सरस्वती शिशु मंदिर से आरती पांडेय, सविता सिंह, सुप्रिया सिंह, रोशनी, अर्चना सरकार, लेखन क्षेत्र में भारती वैष्णव का सम्मान अणुव्रत समिति द्वारा स्मृति चिन्ह देकर दिया गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *